Paracetamol in Hindi – पेरासिटामोल के उपयोग, साइड इफेक्ट्स और अन्य जानकारी

Paracetamol in Hindi पेरासिटामोल सामान्य रूप से प्रयोग की जाने वाली दवा है| यह दवाई बुखार और अन्य कई प्रकार के दर्द से राहत पाने के लिए इस्तेमाल की जाती है| यह दवा किसी भी फार्मेसी में आसानी से मिल जाती है| यानि की यह दवा लेने के लिए हमें डॉक्टर की परमिशन की ज़रुरत नहीं पड़ती| इस दवा का असर 2 से 4 घंटे तक रहता है| यह दवा किसी सर्जरी के बाद जब बहुत ज्यादा दर्द होती है तब भी दी जाती है|

Paracetamol in Hindi – पेरासिटामोल इन हिंदी 

पेरासिटामोल मेडिसिन के बारे में हमें सभी जानकारी होनी आवश्यक है. पेरासिटामोल कैसे काम करती है. इससे कोई साइड इफेक्ट्स तो नहीं होता. आइये जानते हैं, Paracetamol in Hindi के बारे में.

पेरासिटामोल कैसे काम करती है – How Paracetamol Works in Hindi 

जैसा की ऊपर बताया गया है कि पेरासिटामोल सर्दी,बुखार में ली जाने वाली दवा है| यह दवाई टेबलेट, सिरप और इंजेक्शन के द्वारा भी ली जाती है| बच्चों को सिरप के रूप में दी जाती है| यह दवा Non-Steroid Anti-Inflammatory drug (NSAID) है| यह दवा हमारे शरीर में मौजूद एक Cyclooxygenase enzyme को रोकता है| यह एंजाइम हमारे शरीर में दर्द पैदा करने वाले तत्व बनाता है| पेरासिटामोल हमारे शरीर में चेमिकल्स के द्वारा होने वाली सूजन को भी ख़त्म करता है|

पेरासिटामोल का उपयोग – Paracetamol Uses in Hindi

पेरासिटामोल को हम कई प्रकार के रोग में इस्तेमाल कर सकते हैं| पेरासिटामोल में एंटी इंफ्लेमेटरी तत्व पाएं जाते हैं| पेरासिटामोल में कैफीन भी होता है जो माइग्रेन में होने वाले दर्द को भी ठीक करता है| निम्न हैं –

  • सर दर्द
  • जोड़ों में दर्द
  • दांत का दर्द
  • मासिक धर्म का दर्द
  • मांसपेशियों का दर्द
  • सर्दी झुकार में होने वाला बुखार
  • माइग्रेन में होने वाला दर्द
  • कमर का दर्द
  • गठिया (Osteoarthritis)

पेरासिटामोल के नुक्सान – Paracetamol Side Effects in Hindi

ज्यादातर यह दवा सभी को सूट कर जाती है| परन्तु अगर यह दवा ज्यादा मात्रा में ली जाए तो  किसी को पेरासिटामोल सूट नहीं करती| एक दिन में पेरासिटामोल को 4g से ज्यादा नहीं लेना चाहिए| वरना उन्हें पेरासिटामोल के साइड इफेक्ट्स इस प्रकार होते हैं|

  • त्वचा में लाली आ जाना
  • उलटी का एहसास होना
  • सांस लेने में तकलीफ होना
  • त्वचा पर पिम्पल्स निकलना
  • लिवर फेलियर

कुछ साइड इफेक्ट्स ऐसे हैं जो बहुत कम लोगों में देखें गए हैं-

  • अस्थमा होना
  • खुनी रंग का मल
  • मुँह में सफ़ेद धब्बे पड़ना
  • थकान
  • बिना किसी रोग के बुखार आ जाना
  • कैंसर
  • गर्भावस्था – यदि गर्भावस्था के समय पेरासिटामोल ले तो तो उसके बच्चे को  है|

पेरासिटामोल के अन्य रूप – Paracetamol Alternatives in Hindi

paracetamol in hindi पेरासिटामोल कई अन्य दवाओं में भी पाया जाता है| जैसे –

  • Ultragin 500mg
  • Lupicin  500mg
  • Macfast 500mg
  • PCM 500mg

paracetamol in hindi के बारे में आप जन गए होंगे. वैसे तो Paracetamol दवा का प्रयोग गर्भावस्था और स्तनपान के वक्त सुरक्षित होता है| परन्तु गर्भावस्था और स्तनपान महिलाओं को पेरासिटामोल का इस्तेमाल करने से पहले एक बार डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए| क्योंकि अगर अपने डॉक्टर की सलाह लिए बिना पेरासिटामोल का प्रयोग किया और अगर आपको सूट नहीं हुई तो आपके बच्चे को अस्थमा होने का चांस हो सकता है|

Note: किसी भी मेडिसिन को लेने से पहले अपने डॉक्टर की सलाह जरुर लें. ये पोस्ट सिर्फ जानकारी के लिए है.

इन्हें भी जाने:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *